5 best night time English books for toddlers





कहानियां दुनियाँ के बारे में हमारे विचारों को आकार देने का काम करती हैं। जब हम बच्चों को कोई कहानी सुनाते हैं तो बच्चों पर इसका बहुत प्रभाव पड़ता है। माता-पिता रात में सोते समय बच्चों को कहानियां सुनाते हैं और अब तो यह अच्छी परवरिश का एक हिस्सा बन गया है। यह माता-पिता व बच्चों के लिए एक सुखदायक गतिविधि है और साथ ही इससे आपके और आपके बच्चों के बीच एक अच्छी बॉन्डिंग भी बनती है। ऐसे कई शोध हैं ,जिनमें यह पाया गया है कि रात को सोते समय बच्चों को कहानियां सुनने से बच्चों का संक्रियात्मक व संज्ञानात्मक विकास तेज़ी से होता है। अतः कहानियों की किताबें बच्चों के लिए बहुत उपयोगी हैं।

 आप जितनी जल्दी यह गतिविधि शुरू करेंगी, उतना ही अच्छा रहेगा। आप बच्चों को उनकी उम्र के हिसाब से अलग-अलग प्रकार की कहानियां सुना सकती हैं।यह कहानियां आपके बच्चों के शुरुआती विकास के लिए बहुत आवश्यक है। यह गतिविधि आप बहुत छोटे बच्चों के साथ भी कर सकती हैं। ऐसा ज़रूरी नहीं है कि जब बच्चे बोलने लगे तभी आप बच्चों को कहानियां सुनाना शुरू करें। इससे आपके बच्चे अलग अलग तरह की ध्वनियों, लय और ताल व भाषा को पहचानेंगे। शोध में पाया गया है कि जो बच्चे प्रतिदिन रात में अपने माता पिता से कहानियां सुनते हैं, उनकी पढ़ने में ज्यादा रुचि होती है और उनके भाषा कौशल में भी विकास होता है। आप बच्चों को उनकी उम्र के हिसाब से कहानियां पढ़कर सुना सकते हैं। शुरुआती समय में इसकी अवधि कम रखिए और बाद में इसकी अवधि आप आवश्यकता अनुसार बढ़ा सकती हैं।

 बच्चों की उम्र और उनके स्वभाव के हिसाब से किताबों का चुनाव करें जिससे आप आसानी से बच्चों की पसंद की कहानी की किताबें चुन पाएंगी। जब भी आप बच्चों को कहानी सुनाएं तो आप इस गतिविधि को मनोरंजक बनाने के लिए अलग-अलग तरह की ध्वनियां / आवाज़ें  निकाल सकती हैं। बच्चों को कविता और मज़ेदार शब्दों से भरी कहानी बहुत पसंद आती हैं। बच्चों के कुछ पसंदीदा विषय होते हैं, जैसे- पशु पक्षी से संबंधित किताबें, ट्रक व कार से संबंधित, राजकुमार और राजकुमारियों की कहानियां, रोबोट और खेलों की कहानियां आदि। आपको अलग-अलग विषयों की पुस्तकों का चुनाव करना चाहिए जिससे आपको पता चलेगा कि आपके बच्चे को किस प्रकार के विषय पसंद है। अगर आप चाहे तो जब बच्चे थोड़े बड़े हो जाएं तो उन्हें कुछ पुरानी अच्छी कहानियां जो कि आप बचपन में सुना करती थी ,वह बच्चों को भी सुना सकती हैं।

बच्चों के लिए उनकी आयु के अनुसार किताबों का चुनाव करने के कुछ टिप्स :-

* 1 साल या उससे छोटे बच्चे के लिए:- 

छोटे बच्चों के लिए ऐसी किताबों का चयन करें, जिनमें कविताएं व गीतों की अधिकता हो और जो ,आप उन्हें गा कर सुना सकें। जब बच्चा रंगों और आकृतियों को समझने लगता है और ऐसी चीज़ों की ओर आकर्षित होता है, तो ऐसे समय में आप इस प्रकार की किताबों का चुनाव करें ,जिससे बच्चों को चित्रों के माध्यम से रंगों का आकृतियों का ज्ञान दे सकें। साथ ही में मज़ेदार कहानियां भी सुनाएं। इस बात का ध्यान रखें कि किताब कार्डबोर्ड या प्लास्टिक की हो क्योंकि छोटे बच्चे हर चीज़ को पकड़ने और अपने मुंह में डालने की कोशिश करते हैं।

* 1 से 3 साल के बच्चों के लिए :-

जब आप किताबे लेने जाए तो बच्चों को बुक स्टोर पर साथ ले जा सकती हैं। इससे बच्चे अपने पसंद के विषयों की किताबें चुन सकते हैं और अपनी मनपसंद किताबें ले सकते हैं। आप कहानी सुनाते समय उनसे प्रश्न पूछ सकती हैं कि उस चित्र में क्या है? या चित्र में जो पशु पक्षी है ,वह क्या कर रहा है? ऐसा करके आप उसे प्रोत्साहित कर सकती हैं और कहानी को एक रोचक ढंग से बच्चों को सुना सकती हैं।

3 वर्ष या उससे अधिक आयु के बच्चों के लिए:-

जब बच्चा 3 साल का हो जाता है तो वह किताब को पकड़ना उसके पन्ने पलटना सीख जाता है और अपने शब्दों में किताब पढ़ने की कोशिश भी करता है। ऐसे में आपको उसे ऐसी कहानियां सुनानी चाहिए जिससे उसमें अच्छी आदतों का विकास हो, जैसे- चीज़े बांट कर खाना, दोस्त बनाना आदि। आप को उन्हें कहानियों के माध्यम से स्कूल व बाहरी दुनिया के बारे में बताना चाहिए।

आइए जानते हैं कुछ किताबों के बारे में जिनको आप बच्चों को रात में सोने के समय पढ़ कर सुना सकते हैं-

1) Good night gorilla by Peggy Rathmann-

यह किताब बहुत है ही मज़ेदार है। इसमें एक नटखट गोरिल्ला का चित्रण बहुत ही स्पष्ट रूप से किया गया है। इसकी कहानी बहुत ही दिलचस्प और हँसाने  वाली है जो कि बच्चों को बहुत पसंद आती है।

2) Peekaboo by Janet and Allen Ahiberg -

इस किताब में साधारण कविताओं के माध्यम से उन चीज़ों के बारे में बताया गया है जो कि बच्चे प्रतिदिन अपने आसपास देखते हैं। सभी चीजों का वर्णन बहुत ही स्पष्ट रूप से किया गया है। यह किताब छोटे बच्चों के शुरुआती समय में कहानी सुनाने के लिए अच्छी है।

3) The going to bed book bye Sandra Boynton -

छोटे बच्चों के लिए यह किताब बहुत मज़ेदार  है। इसमें बच्चों को सोने से पहले क्या-क्या काम करने हैं ,यह सब प्यारे प्यारे जानवरों के माध्यम से बताया गया है।

4)  365 Panchatantra stories by Om books -

इस किताब में पंचतंत्र से जुड़ी प्राचीन भारत की कुछ कहानियों का संग्रह है। प्रत्येक कहानी में बच्चे को पशु चरित्र के माध्यम से साधारण नैतिक मूल्यों के बारे में बताया गया है। इन कहानियों का बहुत ही अच्छी तरह से रंगीन चित्रण किया गया है जो कि बच्चों को एक नई कल्पना की दुनियाँ में ले जाता है।

5) Twinkle twinkle little Star by Jerry Pinkney -

Jerry द्वारा लिखी गई यह किताब बच्चों के लिए चित्रित की गई सबसे प्रसिद्ध किताबों में से एक है। इसमें सुप्रसिद्ध कविता के साथ-साथ बच्चों की सपनों की दुनियाँ का बहुत ही सुंदर चित्रण किया गया है।

इस प्रकार बच्चों को सोते समय कहानियां सुनाने से उनकी कल्पना शक्ति का विकास होता है। साथ ही जब आप बच्चों को कहानियां सुनाते हैं तो वे नए शब्दों व ध्वनियों को पहचानते हैं। इसी के साथ आप अपने बच्चों के साथ थोड़ा समय भी बिता पाती हैं ,जिससे आप दोनों के बीच बॉन्डिंग और अच्छी होती है।आप बच्चों को मज़ेदार व लघु नैतिक कहानियां सुना सकती हैं, जिनसे उनके ज्ञान का विकास भी होगा और वह खुश भी रहेंगे।

No comments:

Post a Comment